Monday, 15 December 2014

सर्दी का सितम

उत्तर भारत में ठंड ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। पहाड़ों पर बर्फबारी तो मैदानी इलाकों में बारिश ने... मौसम को बदल कर रख दिया है। मौसम के मिजाज के बदलने से ठंड ने अपने तेवर दिखाने भी शुरू कर दिए हैं....लेकिन ये सर्दी जहां कुछ लोगों के लिए राहत लेकर आई है...तो वहीं कुछ के लिए ये आफत का सबब बनी हुई है। बारिश, ओले और बर्फबारी ने कई जगह पिछले रिकॉर्ड भी तोड़ दिए हैं... मौसम की इस बेइमानी की क्या वजह है। सर्दी से किसकी जिंदगी गुलजार हुई...और किसपर ठंड ने कहर बरपाया।

पहाड़ों पर हुई बर्फबारी से मैदानों में सर्दी कहर बरपाने लगी है। पिछले दिनों उत्तरी भारत में रिमझिन फुहारों और शीत लहर  ने मौसम को इतना सर्द बना दिया कि दिन में भी लोगों की कपकपी छूटती रही... रात के वक्त तो सर्दी के तेवर इतने तीखे हो गए कि लोगों को घरों में दुबकने को मजबूर होना पड़ा।
इस साल अक्टूबर के आखिर में गुलाबी ठंड ने मैदानी इलाकों में दस्तक दी...लेकिन नवंबर आखिर तक सर्दी का असर फीका रहा। दिसंबर में भी ग्लोबल वार्मिंग का असर देखने को मिला। लेकिन एक ही दिन में मौसम ने ऐसी करवट बदली...कि सर्दी के आगे लोग बेसहारा नज़र आए। सर्दी के तेवर दिन ब दिन तीखे होने से अब तो हालात असहनीय होते जा रहे है । इस बीच देश के उत्तरी हलकों में हुई बर्फबारी और बारिश ने अंचल की फिजां ही बदल दी।



दिल्ली एनसीआर में रविवार सुबह कोहरा छाया रहा। दिनभर सर्द हवाएं चली। कंपकंपा देने वाली सर्द हवाओं से लोग दिनभर ठिठुरते नजर आए। हवा के चलते सर्दी के तेवर तीखे रहे। इससे बचने के लिए लोग दिनभर अलाव तापते नजर आए। दोपहर बाद कुछ देर के लिए हल्की धूप निकली। लेकिन रिमझिम फुहारों से मौसम की फिज़ा नहीं बदली। सर्दी का ऐसा असर दिखा कि सड़कें सुनसान और बाजार वीरान नज़र आए। जो लोग घरों से बाहर निकले भी वो अलाव तापते नज़र आए। कब दिन निकला और कब दोपहर हुई..पता ही नहीं लगा। शाम ढलने के बाद लोगों के घर लौटने से रात नौ बजे तक बाजारों में सन्नाटा पसरा नजर आया। इधर सर्दी के तेवर तीखे होने से... पारे में भी भारी गिरावट आई है। अधिकतम तापमान 19.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से करीब दो डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से करीब चार डिग्री अधिक था। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के असर से दिल्ली एनसीआर समेत उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी क्षेत्रों में कहीं कहीं पर बारिश हुई है।..जिससे ठंड ठिठुरन में बदल रही है। मौसम वैज्ञानिकों ने सर्दी का सितम दो तीन दिनों में ओर बढने की संभावना जताई है।
हिमाचल और उत्तराखंड में सीज़न की पहली बर्फबारी ने कहर ढाह दिया है..आलम ये ही कि कई इलाकों में पारा शून्य से नीचे पुहंच गया है...जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है...लोग बेहाल हैं...हिमाचल के पहाड़ों पर जमकर बर्फबारी हो रही है..शिमला और रोहतांग में बर्फबारी से मौसम खुशगवार तो हुआ है...पर्यटकों के चहरों पर खुशी की लहर भी दौड़ आई है...लेकिन रोहतांग में ये परेशानी का सबब भी बनती दिख रही है... रोहतांग में जमकर हिमपात हुआ है जिसकी वजह से वहां करीब 400 पर्यटक फंस गए। .सड़कों पर बर्फ की मोटी परत जम चुकी हैं..लोग अपनी गाड़ियां छोड़ पैदल ही चलने को मजबूर हैं... हालांकि प्रशासन ने बर्फ हटाने की कोशिशे तेज कर दी है..इसके अलावा, नारकंडा, कुफरी, किन्नौर, लाहुल स्पीति, कुल्लू, चंबा, शिमला में बर्फबारी से लोग बेहाल है...इन इलाकों का राज्य के अन्य हिस्सों से संपर्क टूट गया है...पाटलीकुल के नजदीक चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग 21 पर वाहनों की आवाजाही बंद है....किन्नौर में हाईअलर्ट के साथ प्रशासन ने राहत अभियान शुरू कर दिया है...वहीं कुल्लू -मनाली में कुदरत की सफेद आफत में 500 सैलानी फंसे हुए हैं..सैलानियों में बड़ी तादात में महिलाएं और बच्चे शामिल हैं...हिमाचल के अलावा उत्ताराखंड में भी हैं खूब हिपात हुआ है...चारों धामों पर जमकर बर्फबारी हुई है...बर्फ ने जमीन पर सफेद चादर बिछा दी है.....हिमाचल और उत्तराखंड के पहाड़ों पर बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों पर साफ दिख रहा.... दिल्ली में सर्द हवाओं के साथ बारिश ने सर्दी के सितम को और बढ़ा दिया है.... दिल्ली समेत एनसीआर में रविवार को तेज बारिश हुई...जिसके बाद दिल्ली ठंड से कांप उठी...उधर उत्तर प्रदेश भी ठंड और कोहरे की चपेट में है... लखनऊ और आसपास के इलाकों में बूंदाबांदी हुई...जिसके बाद प्रशासन सतर्क हो गया है....

एकर तरफ उत्तर भारत में बारिश के बाद कड़ाके की ठंड से लोग ठिठुर रहें हैं तो वहीं हरियाणा में किसानों के चेहरों पर मुस्कान ला दी है...ठंड से किसानों को आशा की किरण दिखाई दी है..फतेहाबाद में किसानों ने बताया कि उन्हें उम्मीद है कि पहली ठंड से गेहूं और चने की फसल को काफी फायदा होगा...

जाहिर है लंबे समय तक गर्मी की मार झेल रहे दिल्ली वालों को अब जाकर ठंड का एहसास हुआ है। लेकिन हिमाचल, जम्मूकश्मीर और उत्तराखंड के कई इलाकों में जिस तर शुरूआत में ही बर्फबारी आफत बन गई है उससे चिंता भी बढ़ गई है। मौसम विभाग की मानें तो अगले 48 घंटें दिल्ली औऱ आसपास के इलाकों में यूं ही बादल छाएं रहेंगे...और हल्की बूंदा बांदी होती रहेगी...फिलहाल सर्दी का सितम अभी यूं ही जारी रहेगा।.